Computer Shabdkosh in Hindi (Full Guide for Learners)

कम्प्यूटर शब्दकोष की जानकारी हिंदी में
Instruction (अनुदेश)
कम्प्यूटर द्वारा विभिन्न चरणों के कार्यों को सम्पादित करने के लिए दिए गए आदेशों को अनुदेश कहा जाता है. यह आदेश प्रत्येक चरण के लिए छोटे-छोटे वाक्यों की सहायता से दिए जाते हैं.
     
Abacus (अबेकस)
यह एक प्राचीन गणितीय उपकरण है, जिसका इतिहास करीब पाँच हजार वर्ष पुराना है. इसका आविष्कार लगभग 500 ई०पू में बेनिलेनिया में हुआ था. इसका उपयोग गणन कार्यों हेतु किया जाता था. इसको लकड़ी के फ्रेम के अंदर तार में गोलियों को पिरोकर बनाया जाता है. आज के ज़माने में कोई कंपनी इसे प्लास्टिक का बनाकर छोटे बच्चों के लिए गणना सिखने के लिए बनाये हुए हैं.
     
Atana Sofe Berry (अटन सोफ़ बैरी)
यह प्रथम इलेक्ट्रोनिक अंकीय कम्प्यूटर है जिसका आविष्कार जोन अटन सोफ़ एवं इनके सहयोगियों द्वारा 1942 में किया गया था.
    
Octal Number System (अष्ठधारी अंकन प्रणाली)
इन अंकन प्रणाली का आधार 8 होता है, इसलिए इसमें आठ संख्याओं का प्रोयोग किया जाता है, जो इस प्रकार हैं – 0,1,2,3,4,5,6 और 7. माइक्रो कम्प्यूटर में इस प्रणाली का उपयोग सीधे इनपुट-आउटपुट क्रियाओं में किया जाता है.

Alphabetic (अक्षरात्मक)
केवल वर्णमाला के अक्षरों तथा रिक्त स्थानों से बने डाटा को अक्षरात्मक डाटा कहा जाता है, यहाँ ‘ABHISHEK KUMAR’ अक्षरात्मक डाटा है परन्तु ‘A. KUMAR’ नहीं क्यूंकि यहाँ डॅाट को प्रयोग किया गया है.

Arthmetic Engine (अर्थमेटिक इंजन)
फ़्रांसिसी गणितज्ञ ब्लेज पास्कल (Blaise Pascal) ने 1947 में प्रथम यांत्रिक गणक (Mechanical Calculator) का निर्माण किया था जिसका नाम उसने ‘अरिथमेटिक इंजन’ रखा. यह इंजन जोड़ तथा घटाव का कार्य यांत्रिक रूप से करता था.


Algorithm (अल्गोरिथ्म)
यह दिखने की एक विधि है, जिसे फ्लो-चार्टिंग (Flow-Charting) कहा जाता है. यह कुछ आकृतियों से बना चित्र होता है जिसमें सभी तीर के चिन्हों द्वारा एक – दुसरे से जुड़ी होती हैं.
Inter Block Frap (अन्तर ब्लाक अन्तराल) कहा जाता है.


Assembly Language (असेम्बली भाषा)
असेम्बली भाषा कार्यक्रम तैयारी प्रक्रम को सुधारने के प्रयासों में प्रथम चरणों में से एक है. मशीनी भाषा के गणनात्मक क्रिया संकेतों के लिए आधार संकेतों को स्मृति सहायक में स्थानापन्न कर्ता है. स्मृति सहायक एक प्रकार की मानसिक चाल की तरह ही हैजो की हमें याद कराने में सहायक होती है.

Analog Computer (अनुरूप कम्प्यूटर)
एनालॉग ग्रीक भाषा का शब्द है जिसका अर्थ  दो भौतिक राशियों में अनुरूपता स्थापित करना है. इस प्रकार के कम्प्यूटर विद्दुतधारा मापकर किसी भौतिक राशि के साथ अनुरूपता स्थापित करते हैं. इस प्रकार के कम्प्यूटरों का मुख्य उपयोग साधारण डिफेरेंशियल समीकरण हल  करने के लिए किया जाता है.

Semi Conductor Memory (अर्द्धचालक स्मृति)
इस प्रकार की स्मृतियों की शुरुआत 1970 के दशक में हुई है तथा वर्तमान समय में काफी प्रचलित है, ये स्मृतियाँ काफी प्रचलित है. ये स्मृतियाँ बहुत तीब्र है और पूरी तरह से इलेक्ट्रोनिक स्वभाव के हैं. एक अर्द्धचालक स्मृति में दो आधारी अंक 0 और 1 एक सैल में संचित होते हैं, यह स्मृतियाँ तीब्र होने के साथ साथ आकार में बहुत छोटे होते हैं.


international Standard Book Number (अंतराष्टीय मानक संख्या)
यह विश्व स्तर पर लागू होने वाली पुस्तक संख्या का मानक है. इसका मुख्य उद्देश्य विश्व में कहीं से भी प्रकाशित होने वाली प्रत्येक पुस्तक के शीर्षक में एक मानक संख्या प्रदान करना है. कम्पुटर द्वारा पुस्तक के अधिग्रहण तथा आपूर्ति का आदेश देने के सन्दर्भ में इसका अत्यंत महत्व है. यह 10 अंकों का सेट होता है जो निम्न चार अभिज्ञापकों में बनता है.

(1)  Grap Identifier
(2)  Publisher Indentyfier
(3) Title Indentifier
(4) Check Digit

Character Printer (अक्षर मुद्रक)
इस प्रकार के मुद्रक से एक समय में एक ही अक्षर मुद्रित किया जा सकता है. ये टाईपराईटर के सामान ही होता है जिसमें कागज़ और स्याही से लगे रिबन पर टाईपफेस को दबाया जाता है.


Assembler (असेम्बलर)
असेम्बली भाषा में प्रोग्राम लिखना मशीनी भाषा की तुलना में सरल होता है. परन्तु कम्प्यूटर चलने के पूर्व उसका अनुवाद मशीनी भाषा में करना पड़ता है. यह अनुवाद खुद कम्प्यूटर एक प्रोग्राम के द्वारा कर लेता है जिसे असेम्बलर कहा जाता है.

Compatibility (अनुकूलन)
विभिन्न सॉफ्टवेयरों में बनाते गए विभिन्न डाटाबेसों से डाटाबेसों से डेटा लेकर अपने डेटाबेस में विलय करने तथा अपने डेटाबेस के डेटा को दुसरे सॉफ्टवेयरों पर बने डेटाबेसों में प्रेषित कर पाने के गुण को अनुकूलन कहा जाता है. इसे डेटा का हस्तान्तरण भी कहा जा सकता है.


ALGOL Language (अलगोल भाषा)
इस भाषा का विकास 1958 में किया गया था और इसका नाम एलगोल-58 रखा गया. वर्तमान रूप में एलगोल-68 का प्रयोग किया जाता है. इस भाषा का प्रयोग अमेरिका केस्थान पर यूरोप में अधिक होता है तथा इस भाषा का प्रयोग मुख्यतः रैखिक प्रोग्रामिंग के लिए किया जाता है.

Very Language Integriation (अतिवृहत एकीकरण)
चतुर्थ पीढ़ी के कम्प्यूटरों में केन्द्रीय संसाधन के रूप में अतिवृहत एकीकरण सर्किट का उपयोग किया जाता है. इसमें एक डाक टिकिट के आकार के सिलिकन चिप्पड पर हजारों लाखों ट्रांजिस्टरों को स्थापित कर इस श्रेणी को संभव बनाया जाता है. इस कार्य का श्रेय टेड हाॅफ (Ted Haft) नामक अमेरिकन इंजिनियर को दिया जाता है.

ERNET (अरनेट)
इसका पूरा नाम “Education & Research Network” है तथा इसदे भारत सरकार के इलेक्ट्रोनिक बिभाग ने 1986 में स्थापित किया था. इस नेटवर्क का मुख्य उद्देश्यशिक्षा तथा शोध से सम्बंधित अद्धतन सूचनाओं से जिज्ञासुओं को अवगत करना है. इस नेटवर्क की सहायता से 250 से अधिक शोध एवं शिक्षण संथायें और हजारों उपभोक्ता लाभान्वित हो रहे हैं.


Semi Conductor Based Tranristor (अर्द्ध कंडक्टर आधारित ट्रांजिस्टर)
कम्प्यूटर के द्वितीय पीढ़ी के केन्द्रीय संसाधक के रूप में इसका उपयोग किया जाता है. इसका अविष्कार 1947 में ही हो चूका था लेकिन इसका प्रयोग 1953-54 में किया गया, यह भी एक तरह वाल्व है लेकिन यह की अपेक्षा स्थान कम घेरता है एवं काम अधिक तीव्रता से करता है.


Upload (Upload)
यह प्रक्रिया जिसमे इंटरनेट के द्वारा हम किसी एक कम्प्यूटर को सूचना हस्तान्तरण या आदान-प्रदान करते हैं. अपलोड कहलाती है. किसी को ई-मेल देना आप के द्वारा इसे upload करना है. या जैसे हम Mysoftguru के द्वारा जो डाटा इंटरनेट पर भेजते हैं इसे upload करना कहलाती है.

Upgrades (अपग्रेड्स)
सामान्यतः यह पूर्ण प्रोग्राम नहीं होता है, इअके लिए जरुरी हैकि आके सिस्टम में निश्चित सॉफ्टवेयर का एक निश्चित हिस्सा मौजूद हो. पेच के द्वारा किसी भी सॉफ्टवेयर को सोंशोधित किया जाता है या उसे उससे ओर उन्नत बनाया जाता है या किसी गलती को ठीक किया जाता है.

Index (अनुक्रमाणिका)
यह एक फ़ाइल में दिए गए प्रतिवेदनों के कनटेन्ट (Content) की सारणी होती है जो कि उसकी स्थिति के बारे में जानकारी प्रदान करती है कि वह कहाँ संग्रहित है.

Indexing (अनुक्रमानिकरण)
यह एक पद्धति है जो किसी फाइल या स्मृति में से सूचना पुन: प्राप्ति में काम लि जाती है.

Upper Case (अपर केस)
अपर केस का उपयोग केपिटल लैटर के लिए किया जाता है.

Lower Case  (लोअर केस)
लोअर केस का उपयोग स्माल लैटर के लिए किया जाता है.

Unset (अनसेट)
बिट की वेल्यु को बाइनरी शून्य में परिवर्तन को अनसेट कहा जाता है.

Address (अड्रेस)
इंटरनेट वेब पेज पर आने वाला एक विशेष स्थान होता है.

Address Book (एड्रेस बुक)
एक  सॉफ्टवेयर जो ऑनलाइन जुड़ने वाले Address को संगृहीत करे . यह प्राय: सभी ईमेल पैकेज में उपलब्ध होता है.

अटैचमेंट
वर्ड, ई-मेल पैकेज में उपलब्ध व्यवस्था जिससे फाइल को ई-मेल से जोड़ा जा सके.

अंकन
अंकन का जीवन में बहुत अधिक महत्व है. कम्प्यूटर में संगृहीत किये जाने वाले आंकड़ों का 90 प्रतिशत भाग संख्यात्मक (Numeric) ही होता है.

अंकन प्रणाली
जिस प्रणाली के अनुसार संख्याएँ लिखी जाती है और उनका मान निकाला जाता है, उसे अंकन प्रणाली कहा जाता है.

अंकाक्षर
कम्प्यूटर के सन्दर्भ में ‘अंकाक्षर’ का अर्थ है कोई भी एक वर्ण, अक्षर, अंक, चिन्ह इत्यादि. यहाँ तक भी एक वर्ण या अक्षर की की जगह खाली छोड़ना भी एक अंकाक्षर (Character) है.

अंकगणितीय तार्किक इकाई
केन्द्रीय संसाधन के इस भाग में अंकगणित से सम्बंधित कार्य किये जाते है. इन कार्यों के अतिरिक्त कुछ अन्य तर्क पूर्व कार्य जैसे अंकों या अक्षरों की तुलना करना भी इसी इकाई का कार्य है.

अंकाक्षर कुंजियाँ
अंकाक्षर कुजियाँ के अंतर्गत निम्नलिखित कुंजियाँ आती है-
A, B, C-2
A, b, c-3
1,2,3,4-9

अंकीय कम्प्यूटर

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *